ऐनमेशन का एक छोट परिचय।

  • Posted on: 28 May 2020
  • By: dexter

ऐनमेशन क्या है।

एनिमेशन एक शब्द है जो कि लैटिन भाषा के 2 शब्दों के अर्थ को मिलाकर बनाया गया है। यह दो शब्द है अनिमा (anima) जिसका अर्थ है श्वास आत्मा और दूसरा शब्द है अनिमेर (animare) जिसका अर्थ है जीवन की श्वास प्रदान करना । एनिमेशन को हिंदी में हम सजीवता भी बोल सकते हैं।

एनिमेशन में हम कई चित्र बनाते हैं जिसमें हर एक चित्र पिछले चित्र से थोड़ा सा भिन्न होता है। जब कोई इन चित्रों को एक के बाद एक एक अनुकूल गति से देखता है या किसी को हम यह चित्र एक के बाद एक दिखाते हैं तो ऐसा भ्रम पैदा होता है कि मानो चित्र में दर्शाई हुई वस्तु चल रही है या कोई कार्य कर रही है। इस तरह से जो भ्रम पैदा होता है या जो दृश्य आपको दिखाई देता है उसे हम एनिमेशन कहते हैं।

नीचे दिए हुए इन 8 चित्रों को आप ध्यान से देखिए इसमें एक गेंद दर्शाई गई है हर एक चित्र में गेंद की स्थिति बदल रही है और अंत में गेंद बाहर चली जाती है।

Bouncing ball frames
अब अगर आप इन चित्रों को एक के बाद एक बदले तो आपको कुछ ऐसा दृश्य दिखाई देगा।

Bouncing ball

(अगर आपको जानना है कि ऊपर दिया हुआ चित्र कैसे बनाया है तो कृपया यह ब्लॉग पोस्ट देखें To see how the above was done in using ImageMagik see this link: How to convert set of image to GIF using ImageMagick. )

ऊपर दिए हुए जिफ इमेज में हमें ऐसा प्रतीत होता है की एक गेंद टप्पा खा कर उछल रही है पर क्या यह सच में उछल रही है।

इसका उत्तर है नहीं । क्योंकि इस चित्र में  एक के बाद एक पहले बनाए हुए 8 चित्र बदले जा रहे हैं । जिसकी वजह से ऐसा प्रतीत हो रहा है कि गेंद उछल रही है । असल में तो सिर्फ एक के बाद एक चित्र बदल रहे हैं। यह हमें ऐसा इसलिए प्रतीत होता है या ऐसा हमें तभी प्रतीत होता है जब चित्र एक के बाद एक किसी अनुकूल गति में बदले जाएं । अगर चित्र बदलने की गति बहुत धीमी हो या बहुत तेज हो तो आपको शायद ऐसा अनुभव नहीं होगा।

तो असल में एनिमेशन मात्र एक दृष्टि भ्रम है जो कि हमारे दिमाग को इस परिवर्तन को एक असली दृश्य के रूप में देखने को विवश कर देता है। 

अब आप अगला चित्र देखिए जिसमें चित्रों के बदलने की गति काफी कम है इसमें आपको एनिमेशन का उतना अनुभव नहीं होगा या फिर हम कह सकते हैं यह वाला चित्र हमें बहुत ज्यादा सजीव नहीं लगता।
Bouncing ball
ऊपर दिए गए उदाहरणों से हम देख सकते हैं कि एनिमेशन बनाने के लिए या साधारण एनिमेशन बनाने के लिए आपको बहुत ज्यादा परिश्रम या कौशल की जरूरत नहीं । किंतु जब आपके एनिमेशन बहुत बड़े और पेचीदा हो जाएंगे तो आपको अच्छी चित्रकला कौशल आना जरूरी होती है। जब एनिमेशन में आप इनसान, जानवर आदि प्रकार के चरित्र दिखाते हैं तो उनकी भावनाओं को दर्शाने के लिए यह सब कौशल बहुत जरूरी होते हैं।

एक और गलत विचारधारा जो लोगों के मन में है कि कोई भी आज उठकर त्रि-आयामी या दो-आयामी एनिमेशन कर सकता है क्योंकि आज कंप्यूटर में बहुत सारे बढ़िया-बढ़िया सॉफ्टवेयर उपलब्ध है ।

बात बिल्कुल ऐसी नहीं है । एक अच्छा एनिमेशन बनाने के लिए आपके पास कहानी सुनानी और सोचने की क्षमता होनी चाहिए अच्छे कला कौशल होने चाहिए और बहुत ही ज्यादा जरूरी है कि आपकी कल्पना शक्ती बहुत बढ़िया होना चाहिए । हो सकता है आपकी चित्रकला कौशल बहुत बढ़िया ना हो लेकिन इसे आप थोड़ा सुधार लें कंप्यूटर एनीमेशन की दुनिया में कदम रखने से पहले ।

कंप्यूटर और एनीमेशन सॉफ्टवेयर आपको आपका कार्य करने में मदद प्रदान करेंगे और इससे आपका कार्य आसानी से हो सकता है किंतु आपकी कल्पना शक्ती और आपके कौशल का यह कोई तोड़ नहीं है।

और बातें हम बाद में करेंगे।

Add new comment

CAPTCHA
This question is for testing whether or not you are a human visitor and to prevent automated spam submissions.
Image CAPTCHA
Enter the characters shown in the image.